भगवान श्रीकृष्ण : विलक्षण नेतृत्व (2)

भगवान श्रीकृष्ण : विलक्षण नेतृत्व (2)

  • Rs35.00

भगवान् श्रीकृष्ण विलक्षण नेतृत्व 

महाभारत के बारे में तो प्रसिद्ध ही है की जो महाभारत में नहीं, वः कही नहीं है | भगवान् वेदव्यास व्दारा रचित उस रत्नाकर में से भगवान् श्रीकृष्ण के विलक्षण नेतृत्व-गुणों की दुर्लभ-रत्नराशि एकत्र करने में प्रकट हुई महामहोपाध्याय बाल शास्त्री हरदास की ख्यातिप्राप्त विव्द्त्ता, मेधा और अनुपम सूक्ष्मदृष्टी का परिचय इस ग्रन्थ से हिन्दी पाठकों को मिलेगा |

Write a review

Note: HTML is not translated!
    Bad           Good
Captcha

Tags: Bhagwan Shrikrishna : Vilakshan Netrutwa