सुपर पावर? भारतीय कछुवा या चीनी खरगोश

सुपर पावर? भारतीय कछुवा या चीनी खरगोश

  • Rs400.00
  • Rs350.00

चीन विकास के क्षेत्र में अपनी गति से अर्थशास्त्र के चकित करनेवाले नए मुहावरे गढ़ रहा है जबकि भारत उभरती अर्थव्यवस्था का  विशिष्ट उदाहरन है | भारत के विकास की गति में धीमी किन्तु निरंतर वृद्धि हुई है | भारत एवं चीन ने विकास व उन्नति  के नए शिखर छुए है और दुनिया भर की नीगाहे अपनी और खिंच ली है| प्रस्तुत पुस्तक में लेखक ने आंकड़ो सहित इन डॉ पडोसी देशों की होड़ का पूरा लेखा -जोखा प्रस्तुत किया है | ऐसे प्रत्येक पाठक के लिए, जो जिज्ञासु है की ये दोनों देश इतिहास को कैसे बदलेंगे, या पुस्तक अत्यंत पठनीय है | 

Write a review

Note: HTML is not translated!
    Bad           Good
Captcha

Tags: Super Power, सुपर पावर? भारतीय कछुवा या चीनी खरगोश, चीन, CHIN, CHINA